3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें?

 

3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें? इसके लिए आपको सबसे पहले यह जानकारी होनी चाहिए कि 3 फेज मोटर में कितने कनेक्शन होते हैं? और मोटर का कनेक्शन क्यों किया जाता हैं

मोटर कनेक्शन से क्या फ़ायदा है क्योंकि कोई भी मोटर बिना कनेक्शन के चलाई नहीं जा सकती मोटर का कनेक्शन करने के लिए उसे सप्लाई वायर से जोड़ना होता है।

अब उसे सप्लाई वायर से कितने प्रकार से जोड़ सकते हैं 3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें? जानते है।

3 फेज को मोटर से तीन प्रकार से कनेक्ट किया जाता है जिसमें से पहला स्टार कनेक्शन और दूसरा डेल्टा में कनेक्शन और तीसरा स्टार डेल्टा कनेक्शन अब यह कनेक्शन हमें मोटर से जिस-2 प्रकार का काम लेना है उसी के आधार पर मोटर का कनेक्शन किया जाता है

इसके साथ-2 मोटर छोटी है या बड़ी है इस पर भी कनेक्शन का प्रभाव पड़ता है मोटर का कनेक्शन सावधानीपूर्वक करना चाहिए

क्योंकि यदि आपसे मोटर का कनेक्शन सही से नहीं हुआ तो मोटर सही से चलेगी नहीं इसके साथ-2 मोटर की क्षमता पर भी बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ता है।

इसे भी पढ़े-

1- सिंगल फेज की मोटर का कनेक्शन कैसे करे?

3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें?

3 फेज मोटर का कनेक्शन करने के लिए सबसे पहले आप किसी मोटर को देखते हैं तो मोटर के बीचो-बीच में एक उभरा सा डिब्बा लगा होता है और उस डिब्बे के ऊपर एक कवर लगा होता है

जब आप उस डिब्बे के कवर को खोलते हैं तो उसके अंदर आपको 6 तार जो की मोटर के अंदर से निकलते हैं और इसके आलावा एक प्लास्टिक की प्लेट होती है

जिसे टर्मिनल प्लेट कहते है जिस पर 6 नट बोल्ट लगे होते हैं अंदर से निकले हुए जो 6 तार होते हैं उनको इसी प्लेट के 6 नट बोल्ट पर टाइट किया गया होता है

यह जो 6 तार मोटर के अंदर से निकलते हैं वो मोटर के अंदर वाइंडिंग किए गए तीन क्वाएल के सिरे होते हैं

यह जो क्वाएल होती हैं इसमें से हर एक क्वायल के दो-2 सिरे होते हैं तो इस प्रकार से तीन क्वायल के 6 सिरे हुवे।

अब अगर आप मोटर के टर्मिनल प्लेट को देखेंगे तो उस पर U1V1W1 और U2V2W2 लिखा होता है जिसमें से U1 और U2 एक क्वाएल V1 और V2 दूसरी क्वाएल और अंतिम में W1 और Wतीसरी क्वाएल है।

अब इन्हीं को हम जरुरत के अनुसार स्टार में कनेक्शन करते है डेल्टा में कनेक्शन करते है और स्टार डेल्टा में कनेक्शन करते है।

मोटर स्टार कनेक्शन

इस तरह के 3 फेज मोटर का कनेक्शन में 3 कोर की केबल 1 केबल का उपयोग किया जाता है जिसमें RYB तीनो फेज आते है।

3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें?

इस कनेक्शन में सबसे मुख्य रूप से ध्यान देने योग्य बात यह है की स्टार्टर से निकलकर जो तीन फेज आते है तो उसको हम मोटर के साथ कैसे कनेक्ट करें

क्योंकि मोटर के टर्मिनल पर एक कनेक्शन प्लेट लगी होती है उसमें मोटर के अंदर से 6 वायर की लीड निकलती हैं

जब आप प्लेट को देखेंगे तो उसमें U1 V1 W1 और उसके नीचे U2 V2 W2 लिखा होता है और इन्हीं में आपको थ्री फेज सप्लाई देना होता है

परंतु इसमें यह कन्फ्यूजन होती है कि इसमें 6 टर्मिनल होते हैं और इलेक्ट्रिकल सप्लाई 3 फेज की यानी 3 तार में होती हैं तो कनेक्शन कैसे करें पहले मोटर का कनेक्शन करते हैं

इसमें U1 U2 एक क्वायल, V1 V2 एक क्वायल और W1 W2 एक क्वायल है

अब सबसे पहले हम स्टार में कनेक्शन करने के लिए या तो U1 V1 Wको एक स्ट्रिप से शार्ट कर दे मतलब तीनो क्वायल का एक सिरा शार्ट कर दे और बाकी बचे U2 V2 W2 में 3 फेज RYB कनेक्ट कर दे

या U2 V2 Wको शार्ट कर दे और U1 V1 W1 में 3 फेज RYB कनेक्ट कर दे तो मोटर स्टार में चलने लगेगी। इसमें मोटर का कनेक्शन करने पर मोटर में जाने वाली जो हाई करंट है वह कंट्रोल हो जाती है

इस तरह का 3 फेज मोटर का कनेक्शन सामान्य रूप से 0 से 7.5 हॉर्स पावर की मोटर में ही किया जाता है।

नोट- इस तरह 3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें? इसमें सिर्फ और सिर्फ इतना ही मुख्य रूप से ध्यान देना है की मोटर की एक क्वायल को केवल 230 वोल्ट ही देना है इससे ना कम और ना इससे ही ज्यादा।

इसे भी पढ़े-

1- मोटर के कितने भाग होते हैं?

मोटर डेल्टा कनेक्शन

इस तरह के 3 फेज मोटर का कनेक्शन में 3 कोर की 1 केबल का उपयोग किया जाता है जिसमें RYB तीनो फेज आते है।

3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें?डेल्टा कनेक्शन छोटी मोटरों के लिए नहीं होता है परन्तु ऐसा भी नहीं है की डेल्टा कनेक्शन छोटी मोटर में नहीं कर सकते है

यह कनेक्शन मोटर पर कितना प्रतिशत लोड है इस पर निर्भर करता है।

इस कनेक्शन का उपयोग बड़ी मोटरों में किया जाता है क्योंकि जैसा मैंने आपको ऊपर बताया की मोटर की टर्मिनल प्लेट पर U1 U2, V1 V2, W1 W2 लिखा होता है

अगर मोटर का डेल्टा में कनेक्शन करना है तो यह याद रखना है की इसमें मोटर की एक क्वायल को 415 वोल्ट देना है

तो अब जैसा की ऊपर बताया की U1 U2 एक क्वायल, V1 V2 एक क्वायल और W1 W2 एक क्वायल है

तो U1 को R फेज दे और इस क्वायल के दूसरे सिरे U2 में B फेज दे तो इस तरह से U1 Uएक क्वायल को 415 वोल्ट मिल जायेगा।

अब V1 V2 में V1 को Y फेज दे और इस क्वायल के दूसरे सिरे V2 में R फेज दे तो इस तरह से V1 V2 एक क्वायल को 415 वोल्ट मिल जायेगा और अंतिम में W1 W2 में W1 को B फेज दे

और इस क्वायल के दूसरे सिरे W2 में Y फेज दे तो इस तरह से W1 W2 एक क्वायल को 415 वोल्ट मिल जायेगा।

नोट- डेल्टा में 3 फेज मोटर का कनेक्शन करने में सिर्फ इतना ही मुख्य रूप से ध्यान देना है की मोटर की एक क्वायल को 415 वोल्ट देना है।

मोटर स्टार डेल्टा कनेक्शन

स्टार डेल्टा कनेक्शन में 3 फेज मोटर का कनेक्शन इसमें 3 कोर की 2 केबल का उपयोग किया जाता है जिसमें RYB तीनो फेज आते है।

3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें?स्टार डेल्टा कनेक्शन 7.5 HP से ऊपर की मोटर में करते है।

इस कनेक्शन का उपयोग बड़ी मोटरों में किया जाता है क्योंकि जैसा मैंने आपको ऊपर बताया की मोटर की टर्मिनल प्लेट पर U1 U2, V1 V2, W1 W2 लिखा होता है

अगर मोटर का स्टार डेल्टा में कनेक्शन करना है तो इसमें मोटर की एक क्वायल को 415 वोल्ट देना होता है

तो अब जैसा की ऊपर बताया की U1 U2 एक क्वायल, V1 V2 एक क्वायल और W1 W2 एक क्वायल है

तो U1 को R फेज दे और इस क्वायल के दूसरे सिरे U2 को दूसरी केबल से कनेक्शन करना होता है दूसरी केबल से B फेज दे तो इस तरह से U1 Uएक क्वायल को 415 वोल्ट मिल जायेगा।

अब V1 V2 में V1 को Y फेज दे और इस क्वायल के दूसरे सिरे V2 को दूसरी केबल से R फेज दे तो इस तरह से V1 V2 एक क्वायल को 415 वोल्ट मिल जायेगा और अंतिम में W1 W2 में W1 को B फेज दे

और इस क्वायल के दूसरे सिरे W2 को दूसरी केबल से Y फेज दे तो इस तरह से W1 W2 एक क्वायल को 415 वोल्ट मिल जायेगा।

नोट- स्टार डेल्टा में 3 फेज मोटर का कनेक्शन करने में मोटर की एक क्वायल को 415 वोल्ट देना होता है।

3 phase motor connection करने में सावधानी

स्टार्टर में जो पुश बटन लगे होते हैं उनका कनेक्शन अच्छी प्रकार से करना चाहिए। वायर को अच्छे से टाइट करें जिससे कनेक्शन ढीला ना रह जाए

क्योंकि कनेक्शन अगर ढीला रह गया तो स्टार्टर प्रॉपर तरीके से काम नहीं करेगा।

कनेक्शन करते समय जितनी जरूरत हो उतना ही वायर का उपयोग करें क्योंकि अधिक वायर जब आप ले लेते हैं तो बढे हुए वायर की ड्रेसिंग नहीं हो पाती।

मोटर का कनेक्शन करने के बाद मोटर को चला करके एक बार जरूर देख ले की 3 फेज मोटर का कनेक्शन में लगे कांटेक्टर सही से चल रहे है या नहीं।

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट में आप लोगो ने 3 फेज मोटर का कनेक्शन के बारे में जाना की 3 फेज मोटर का कनेक्शन क्या होता है।

इसमें 3 फेज मोटर में कितने कनेक्शन होते हैं? कैसे करते हैं, 3 फेज मोटर का कनेक्शन कितने प्रकार से होते है, स्टार में 3 फेज मोटर का कनेक्शन कैसे करते है

और डेल्टा में 3 फेज मोटर का कनेक्शन कैसे करे इसके आलावा स्टार डेल्टा कनेक्शन में 3 फेज मोटर का कनेक्शन कैसे करते है।

Star delta starter panel का कनेक्शन करते समय हमें क्या-2 सावधानी बरतनी चाहिए और भी कई प्रश्नों का उत्तर इस पोस्ट में आप ने जाना।

फिर भी आपका कोई प्रश्न है उसे जरूर कमेंट करके पूछे मैं उसका उत्तर जरूर देने का प्रयास करूँगा।

यह भी पढ़े।

1- DOL स्टार्टर का उपयोग कब करना चाहिए?


अब भी कोई सवाल आप के मन में हो तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके पूछ सकते है या फिर इंस्टाग्राम पर rudresh_srivastav” पर भी अपना सवाल पूछ सकते है।

अगर आपको इलेक्ट्रिकल की वीडियो देखना पसंद है तो आप हमारे चैनल target electrician  पर विजिट कर सकते है। धन्यवाद्

3 फेज को मोटर से कैसे कनेक्ट करें? से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (Mcq)-

1- थ्री फेज मोटर का कनेक्शन कैसे होता है?

3 फेज मोटर का कनेक्शन मोटर के टर्मिनल प्लेट पर मोटर के अंदर से निकले वाइंडिंग के 6 तारों को चाहे स्टार में या डेल्टा में समायोजित करने पर जो 3 टर्मिनल बनेंगे उन्हें 3 फेज की सप्लाई देते है 

2- थ्री फेज मोटर के लिए कौन सा कनेक्शन सबसे अच्छा होता है?

3 फेज मोटर का कनेक्शन के लिए स्टार डेल्टा कनेक्शन ही सबसे अच्छा कनेक्शन माना जाता है क्योंकि इसमें मोटर को पहले स्टार में चलाकर उसकी हाई करंट को कण्ट्रोल करते है फिर इसी स्टार्टर में मोटर आटोमेटिक डेल्टा में कनेक्ट हो जाती है।

3- क्या 3 फेज की मोटर सिंगल फेज पर चल सकती है?

3 फेज की मोटर को सिंगल फेज से सीधे नहीं चला सकते इसके लिए एक दूसरे माध्यम की जरुरत पड़ेगी। इसके लिए 1 कपैसिटर की जरुरत पड़ेगी जिसकी सहायता से 3 फेज की मोटर को 1 फेज से चला सकते है।

4- स्टार में मोटर क्यों कनेक्ट करें?

जब हम मोटर को चलाते है तो मोटर जब चालू होती है तो वह अपने फुल लोड करंट (FLC) का 8 से 10 गुना करंट ज्यादा लेती है यह करंट मोटर को जला सकती है जिसे नियंत्रित करने के लिए हम मोटर को स्टार में कनेक्ट करते है।

5- सिंगल फेज को थ्री फेज में कैसे बदलें?

सिंगल फेज को 3 फेज में सिर्फ एक तरीके से बदल सकते है जो की VFD (वेरिएबल फ्रीक्वैंसी ड्राइव) है।

मेरा नाम आर के श्रीवास्तव है इस ब्लॉग में आपको इलेक्ट्रीशियन ट्रेड से संबंधित सभी प्रकार की रोचक जानकारी मिलेगी, जिससे आप रोज नई-नई जानकारी सीख पाएंगे। आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न/कंफ्यूजन है तो उसे कमेंट सेक्शन में जाकर जरूर कमेंट करे मैं जल्द से जल्द उस प्रश्न/कंफ्यूजन का उत्तर दूंगा और आपकी कंफ्यूजन को दूर करने का पूरा प्रयास करूंगा। धन्यवाद्