BLDC पंखा क्या है?

 

बीएलडीसी पंखे का उपयोग बहुत तेजी से हो रहा है परंतु यह BLDC पंखा क्या है? वह कैसे काम करता है? हमारे घरों में जो पुराने पंखे लगे हैं उनसे यह बीएलडीसी पंखा किस तरह से अलग है। बीएलडीसी पंखा किस तरह का होता है।

इसे खरीदना हमारे लिए फायदेमंद है या नुकसानदायक। इस पंखे की लाइफ कितनी है। इसमें बिजली की खपत कैसी होती है। हम अपने घर में बीएलडीसी पंखा लगवाए या पुराने पंखे को ही चलने दें।

यह बहुत सारे प्रश्न आपके मन में आते होंगे इस पोस्ट में आपको इन सभी प्रश्नों का उत्तर लगभग मिल जाएगा फिर भी कोई प्रश्न बचता है तो कमेंट करके आप पूछ सकते हैं।

BLDC पंखा क्या है?

हमारे घरों में जो पंखे लगे होते हैं उन पंखों को आप बचपन से देखते आ रहे हैं लेकिन वर्तमान समय में पंखों की दुनिया में एक नई टेक्नोलॉजी की शुरुआत हुई है यह टेक्नोलॉजी पुराने पंखे की टेक्नोलॉजी से अलग है

इस टेक्नोलॉजी का नाम बीएलडीसी फैन है जिसका पूरा नाम ब्रशलेस डायरेक्ट करंट है तो बात आती है की BLDC पंखा क्या है? इसमें ब्रशलेस डीसी मोटर का उपयोग किया जाता है इसीलिए इसका नाम बीएलडीसी फैन है।

यह हमारे घरों में जो लगा हुआ सामान्य पंखा होता है उसकी तुलना में यह बहुत कम बिजली की खपत करता है इसका हम एक दूसरा नाम भी रख सकते हैं की यह ऊर्जा बचत पंखा है या ब्रशलेस डायरेक्ट करंट पंखा है।

जो सामान्य घरों में लगा हुआ पंखा होता है उसमें इंडक्शन मोटर का उपयोग किया जाता है लेकिन जो बीएलडीसी पंखा होता है

इसमें बीएलडीसी मोटर का उपयोग किया जाता है जो बीएलडीसी पंखा होता है वह सामान्य इंडक्शन फैन की तुलना में 60% तक बिजली की बचत करता है।

यह तो रही बात BLDC पंखा क्या है?

यह भी पढ़े।

1- Bijli ka bill kam kaise kare 10 सबसे आसान तरीके

2- सिंगल फेज की मोटर का कनेक्शन कैसे होता है?

BLDC पंखा क्या है?

बीएलडीसी कैसे काम करता है?

BLDC पंखा क्या है? कैसे काम करता है अब चूंकि जो डीसी मोटर होती है उसमें कार्बन ब्रश का उपयोग किया जाता है लेकिन यह जो बीएलडीसी मोटर होती है यह भी एक डीसी मोटर ही है लेकिन इसमें नाम से पता चल रहा है

ब्रशलेस डायरेक्ट करंट मोटर इसमें बिजली की आपूर्ति को स्थानांतरित करने में रोटर और स्टेटर के बीच किसी भी प्रकार का कोई ब्रश उपयोग में नहीं लाया जाता है इसीलिए इसका नाम ब्रशलेस डीसी मोटर है।

जो बीएलडीसी पंखा होता है उसमें जो रोटर का उपयोग किया जाता है उसमें स्थाई चुंबक का उपयोग किया जाता है

और स्टेटर में कॉपर वाइंडिंग का उपयोग किया जात है अब जब इसमें बिजली की सप्लाई दी जाती है तो यह चुंबकीय प्रवाह उत्पन्न करता है।

राउटर और स्टेटर पर दो समान ध्रुव (N और N, S और S) होता है इससे क्या होता है कि चुंबकीय बल रोटर को घूमने की दिशा में धकेलते हैं

इसलिए रोटर को लगातार घूमने के लिए स्टेटर के ध्रुव लगातार बदलते रहते हैं इससे क्या होता है कि हर बार स्टेटस और रोटर के समान ध्रुव आमने-सामने आ जाते हैं जो की रोटर को निरंतर घूमने के लिए सहायता करते हैं

स्टेटर में ध्रुव के परिवर्तन को लगातार बनाए रखने के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक ड्राइव का उपयोग किया जाता है।

बीएलडीसी ड्राइव-

बीएलडीसी ड्राइव कुल चार चीजों से मिलकर के बना होता है जिसमें से पहले है एसएमपीएस दूसरा है दूसरी माइक्रोकंट्रोलर तीसरा इनवर्टर और चौथा मोटर होता है।

एसएमपीएस- एसएमपीएस का उपयोग हम एसी सप्लाई को डीसी सप्लाई में बदलने के लिए करते हैं।

माइक्रोकंट्रोलर- माइक्रोकंट्रोलर का उपयोग रिमोट कंट्रोल से इनपुट सूचना प्राप्त करने और इनवर्टर के अनुसार आउटपुट सूचना देने के लिए किया जाता है।

इनवर्टर- माइक्रोकंट्रोलर से सिग्नल जो प्राप्त होता है उसे प्राप्त करने के बाद इनवर्टर मोटर को चलाता है।

यदि इसको हम आसान शब्दों में कहें की जब हम बीएलडीसी पंखा को चालू करते हैं तो एसएमपीएस एसी को डीसी में बदल देता है

उसके बाद माइक्रोकंट्रोलर रिमोट से इनपुट सिगनल प्राप्त करता है और फिर इनपुट सिगनल माइक्रोकंट्रोलर इनवर्टर को भेजता है और फिर बीएलडीसी मोटर को इनवर्टर चलता है।

बीएलडीसी पंखा और सामान्य पंखा में क्या अंतर है?

सामान्य पंखा बीएलडीसी पंखा
1- इसमें सामान्य इंडक्शन मोटर का उपयोग किया जाता है। 1- इसमें बीएलडीसी मोटर का उपयोग किया जाता है।
2- इसमें पंखा चलाने के लिए AC सप्लाई का प्रयोग किया जाता है। 2- इसमें पंखा चलाने के लिए DC सप्लाई का प्रयोग किया जाता है।
3- इसमें बिजली का बिल ज्यादा आता है। 3- इसमें बिजली का बिल सामान्य पंखा की तुलना में 65% तक कम आता है।
4- इसमें विद्युत चुम्बक का उपयोग किया जाता है। 4- इसमें स्थायी चुम्बक का उपयोग किया जाता है।
5- यह ज्यादा गरम होता है। 5- यह बहुत कम गरम होता है।

बीएलडीसी फैन कितने वाट का होता है?

जो सामान्य सीलिंग फैन हमारे घरों में लगा होता है उसमें यदि आप स्टार रेटिंग की बात करें तो बहुत कम ही पंखे ऐसे आपको मिलेंगे जिनमें स्टार रेटिंग होती है

चुकी इलेक्ट्रिसिटी से चलने वाले उपकरण में सबसे अच्छा फाइव स्टार रेटिंग वाला उपकरण ही होता है

तो जो सामान्य सीलिंग फैन होते हैं उसमें बहुत कम ही पंखे ऐसे होंगे जो फाइव स्टार रेटिंग में उपलब्ध है लेकिन जो बीएलडीसी फैन होता है वह फाइव स्टार रेटिंग में ही आता है

क्योंकि जहां सामान्य सीलिंग फैन 65 वाट, 70 वाट, 75 वाट में आता है लेकिन जो बीएलडीसी फैन होता है वह 25 वाट, 28 वाट, 30वाट, 32 वाट और अधिक से अधिक 35 वाट में आते हैं।

यह भी पढ़े।

1- मोटर के कितने भाग होते हैं?

बीएलडीसी पंखा कितने समय तक चलते हैं?

बीएलडीसी पंखे का जीवनकाल सामान्य पंखे की तुलना में ज्यादा होता है क्योंकि जो सामान्य पंखा होता है वह जब चलता है तो उसमें गर्मी बहुत ज्यादा उत्पन्न होती है

जिसके कारण पंखा बहुत ज्यादा गर्म हो जाता है जिससे उसका इंसुलेशन जल्दी खराब हो जाता है।

लेकिन वहीं पर जो बीएलडीसी पंखा होता है इसमें आंतरिक गर्मी लगभग न के बराबर उत्पन्न होती है इसीलिए क्योंकि इसमें गर्मी उत्पन्न नहीं होती है इसीलिए इसके अंदर जो भी बाइंडिंग या उपकरण लगे होते हैं

उन पर हीट का कोई प्रभाव नहीं पड़ता और इसी कारण से पंखे का इंसुलेशन जल्दी खराब नहीं होता करिया आसानी से काफी लंबे समय तक काम करता रहता है।

बीएलडीसी पंखा महंगा क्यों है?

बीएलडीसी पंखा महंगा होने के कारण बहुत सारे हैं क्योंकि इसमें बहुत ही एडवांस टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है और इसके साथ-साथ जो समान पंखा होता है

उसकी तुलना में अधिक कुशलता पूर्वक इसको बनाया जाता है इसके साथ-2 इसको कंट्रोल करने के लिए एक रिमोट दिया जाता है बीएलडीसी पंखा का निर्माण करना काफी जटिल प्रक्रिया है।

बीएलडीसी पंखा महंगा पड़ता है लेकिन यह सामान्य पंखा की तुलना में बहुत ही कम बिजली की खपत करता है जहां सामान्य पंख 75 वाट का होता है

वही बीएलडीसी पंखा 25 से 35 वाट के बीच में होता है तो इस तरह से 40% इलेक्ट्रिसिटी पर या पंखा वही आउटपुट देता है जो सामान्य पंखा पूरी इलेक्ट्रिसिटी की खपत करके देता है

यदि बीएलडीसी पंखे को हम 1 साल तक चलाएं और सामान्य पंखे को भी 1 साल तक चलाएं तो बीएलडीसी पंखा इलेक्ट्रिसिटी की बचत करके अपनी कीमत निकाल देगा।

एक पंखा 24 घंटे में कितना बिजली की खपत करता है?

सामान्य पंखा बीएलडीसी पंखा
सामान्य पंखा- 75 वाट

1 घंटा में 75 वाट की बिजली की खपत करेगा।

तो 24 घंटे में 75×24= 1800 वाट  (1000 वाट = 1 किलोवाट)

=1800/1000= 1.8 किलोवाट या 1.8 यूनिट

बीएलडीसी पंखा- 30 वाट

1 घंटा में 30 वाट की बिजली की खपत करेगा।

तो 24 घंटे में 30×24= 720 वाट  (1000 वाट = 1 किलोवाट)

=720/1000= 0.72 किलोवाट या 720 वाट

क्या हमें बीएलडीसी पंखे खरीदना चाहिए?

यह बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्न है तो इसका उत्तर क्या है कि बीएलडीसी पंखे देखने में बहुत ही खूबसूरत होते हैं इसके साथ-2 इसकी स्पीड को कंट्रोल करने के लिए हमें एक अलग से रिमोट मिलता है

सामान्य पंखा 75 वाट की बिजली की खपत करता है वहीं बीएलडीसी पंखा 25 से 35 वाट की बिजली में हमें वही आउटपुट देते हैं जो 75 वाट का सामान्य पंखा देता है

इसमें एयर फ्लो बहुत ही अच्छा मिलता है इसके साथ-2 इसमें जलने की समस्या बहुत ही कम होती है

क्योंकि इसमें सामान्य पंखे की तरह हीटिंग नहीं होती है तो कुल मिला करके यह कहा जा सकता है कि एलडीसी पंखा खरीदा जा सकता है और लंबे समय तक उपयोग किया जा सकता है।

भारत में बीएलडीसी पंखा किसने पेश किया?

सुपरफैन्स पहला पंखा ब्रांड है जिसने भारत में बीएलडीसी पंखा पेश किया।

कौन सा पंखा सबसे अच्छा है बीएलडीसी या सामान्य?

बिजली की बचत के लिए सबसे बेहतर बीएलडीसी पंखा है अगर आप सामान्य पंखा उपयोग करते है तो आप बिजली की बचत नहीं कर सकते क्योकि जहाँ पर बीएलडीसी पंखा 25-35 वाट के बीच में होता है

और सामान्य पंखा 70-80 वाट के बीच में होता है अगर पंखा के लाइफ की बात करे तो जहाँ सामान्य पंखा की 1000 घंटा की लाइफ होती है वही बीएलडीसी पंखा की 3000 घंटा से ज्यादा होती है कुल मिलाकर बीएलडीसी पंखा सबसे बेहतर है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने जाना की BLDC पंखा क्या है?, बीएलडीसी पंखा कैसे काम करता है?, बीएलडीसी पंखा और सामान्य पंखा में क्या अंतर है, बीएलडीसी पंखा कितने वाट का होता है, बीएलडीसी पंखे कितने समय तक चलते है, बीएलडीसी पंखा महंगा क्यों है, एक पंखा 24 घंटा में कितनी बिजली खपत करता है, भारत में बीएलडीसी पंखा किसने पेश किया इन सभी बिन्दुओ विस्तार से जाना।

यह भी पढ़े।

1- डीजी में चेक कितने होते है?

2- ट्यूबलाइट में चोक क्यों लगाते है?


अब भी कोई सवाल आप के मन में हो तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके पूछ सकते है या फिर इंस्टाग्राम पर rudresh_srivastav” पर भी अपना सवाल पूछ सकते है।

अगर आपको इलेक्ट्रिकल की वीडियो देखना पसंद है तो आप हमारे चैनल target electrician  पर विजिट कर सकते है। धन्यवाद्

BLDC पंखा क्या है? से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (Mcq)-

1- बीएलडीसी मोटर को डीसी मोटर क्यों कहा जाता है?

बीएलडीसी मोटर का फुल फॉर्म ब्रशलेस डायरेक्ट करंट मोटर होता है चूँकि इसके फुल फॉर्म से ही पता चल रहा है की यह एक डीसी मोटर है।

2- बीएलडीसी के पंखे लोकप्रिय क्यों नहीं हैं?

बीएलडीसी पंखा इसलिए ज्यादा लोकप्रिय नहीं है क्योकि इसका कारण इसकी कीमत है जो सामान्य पंखा से काफी ज्यादा है जहाँ सामान्य पंखा 1500 रूपये में मिल जायेगा वही बीएलडीसी पंखा 3000 रुपये से सुरु होता है दूसरा इसको हर कोई रिपेयर नहीं कर सकता।

3- पंखे में सबसे अच्छी कंपनी कौन सी है?

बीएलडीसी पंखा में सबसे अच्छी कंपनी।

Crompton, Usha, Luminous, Orient, Bajaj, Havells, Candes, Atambarg

4- बीएलडीसी पंखा बिजली कैसे बचाता है?

बीएलडीसी पंखा के रोटर में स्थाई चुम्बक होता है इसी कारण से इस पंखा में गर्मी पैदा नहीं होती और पंखा का एफिशिएंसी मेंटेन रहता है बिजली की खपत बहुत काम करता है और इसके साथ-2 ब्रश और कम्यूटेटर न होने के कारण इसमें मेंटेनेंस न के बराबर होता है।

5- BLDC मोटर कितने समय तक लगातार चल सकती है?

यदि आप लंबी जीवन प्रत्याशा वाली मोटर की तलाश में हैं, तो ब्रश रहित मोटर पर विचार करें। ब्रश मोटर का जीवनकाल ब्रश के प्रकार के अनुसार सीमित होता है और औसतन 1,000 से 3,000 घंटे तक चल सकता है, जबकि ब्रश रहित मोटर का जीवनकाल औसतन दसियों हज़ार घंटे तक हो सकता है, क्योंकि पहनने के लिए कोई ब्रश नहीं होते हैं।

मेरा नाम आर के श्रीवास्तव है इस ब्लॉग में आपको इलेक्ट्रीशियन ट्रेड से संबंधित सभी प्रकार की रोचक जानकारी मिलेगी, जिससे आप रोज नई-नई जानकारी सीख पाएंगे। आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न/कंफ्यूजन है तो उसे कमेंट सेक्शन में जाकर जरूर कमेंट करे मैं जल्द से जल्द उस प्रश्न/कंफ्यूजन का उत्तर दूंगा और आपकी कंफ्यूजन को दूर करने का पूरा प्रयास करूंगा। धन्यवाद्

Leave a Comment