बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

दोस्तों आप सोचते होंगे की इस उपकरण का बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है? क्योंकि हमारे आपके घर में जो बिजली के उपकरण लगे होते हैं
या आप जब मार्केट में बिजली के उपकरणों को खरीदने के लिए जाते हैं तो आप सबसे पहले उस उपकरण की नेम प्लेट को पढ़ते हैं
तो आप देखते होंगे कि उस उपकरण के नेम प्लेट पर उस उपकरण की Watt लिखी होती है यह वाट जो होता है वह वास्तव में उस उपकरण की पावर को दर्शाता है
मतलब वह उपकरण कितनी बिजली की खपत करेगा अगर आप उसे चलाते हैं। और उसका बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है?
इसमें जो वाट है वह छोटी इकाई है और इससे बड़ी इकाई किलोवाट है उससे बड़ी इकाई मेगावाट और सबसे बड़ी इकाई गीगावाट होती है। हमारे घरों में लगा बिजली का जो मीटर होता है वह किलोवाट को ही काउंट करता है।

Watt, Kilowatt, Megawatt और Gigawatt क्या है

सबसे पहले हम Watt को जानते हैं वाट पावर की छोटी इकाई है या इसे दूसरे शब्दों में कहें की किसी उपकरण के पावर को दर्शाता है जैसे पंखा है वह 75 वाट का होता है।

एलईडी बल्ब 9 वाट का होता है टीवी 100 वाट की होती है इसी तरह से अलग-2 उपकरण अलग-2 वाट का होता है

कुछ लोगो को वाट और किलोवाट में अंतर नहीं समझ आता की वाट क्या है और किलोवाट क्या है।

किलोवाट पावर की वाट से बड़ी इकाई है जो बिजली के छोटे उपकरण होते है उनकी रेटिंग वाट में होती है और जो उपकरण बड़े होते है

जैसे पानी की मोटर, AC, रूम हीटर, प्रेस आदि उनकी रेटिंग KW में होती है

और 1 kwh = watt की बात की जाये तो 1 किलोवाट में 1000 वाट होते है अब मान लीजिये की किसी प्रेस पर 1000 वाट लिखा है 

तो उस प्रेस को 1 घंटे तक चला दे तो वह प्रेस 1 किलोवाट घंटा की बिजली की खपत कर देगा।

अब बात करते है मेगावाट की तो सबसे छोटी इकाई वाट है उससे बड़ी इकाई किलोवाट है और उससे बड़ी इकाई मेगावाट है और सबसे बड़ी इकाई गीगावाट है।

तो अब बात आती है की 1 मेगावाट में कितने किलोवाट होते है तो 1 मेगावाट में 1000 किलोवाट होते है।

बिजली की सबसे बड़ी इकाई गीगा वाट होती है 1 गीगावाट में 1000 मेगावाट होते है।

 

इसे भी पढ़े-

1- 100 वाट बल्ब का क्या मतलब होता है?

Kw और Kwh में अंतर

जैसा कि आपको ऊपर बताया गया है कि वाट और किलोवाट किसी विद्युत उपकरण की पावर को बताता है मतलब यह विद्युत शक्ति की इकाई है।
दोनों के बीच लोगों को कंफ्यूजन होती है की Kw और Kwh (kilowatt hour) दोनों एक ही समझ लेते हैं मगर इन दोनों में बहुत ज्यादा अंतर होता है आइए समझते हैं कि दोनों में क्या अंतर होता है।
इसको आप इस प्रकार से समझे कि कोई भी उपकरण जैसे पानी की मोटर अगर 1 Hp यानी 746 वाट की है
तो जैसे ही आप मोटर को ऑन करेंगे मतलब उसमें विद्युत सप्लाई देंगे और मोटर चलने लगेगा जैसे ही मोटर चलेगा तुरंत वह 746 वाट की बिजली चलने के लिए लेगा।
अब वही अगर हम Kwh (kilowatt hour) की बात करें की जब पानी की मोटर चलेंगी और उसको हम 1 घंटे तक चला लेते हैं
तो मोटर 746 वाट की बिजली की खपत कर देगा मतलब पावर के साथ में टाइम आ गया।
कि उस मोटर को हमने 1 घंटे तक चलाया और उससे 1 घंटे तक कार्य लिया तो उसे 1 घंटे तक चलने में जितनी ऊर्जा की जरूरत थी वह 746 वॉट है
तो हम ऐसा कह सकते हैं कि Kw पावर की इकाई है और Kwh विद्युत ऊर्जा की इकाई है।
इसको एक उदाहरण से और समझ लेते हैं कि 75 वाट का कोई पंखा है तो उस पंखे को चलने के लिए 75 वाट की जरूरत पड़ेगी।
लेकिन अगर आप उस पंखे को 1 घंटा तक चला लेते हैं तो वह पंख 75 वाट की बिजली खपत कर देगा अगर 2 घंटे तक चला लेते हैं तो 150 वाट की बिजली की खपत कर देगा।
इसी Kwh के अनुसार आपका बिजली का बिल भी आएगा मतलब आपको 150 वाट का बिजली का बिल देना पड़ेगा।
अगर आप पंखे को केवल और केवल 15 मिनट ही चलाते हैं तो 60 मिनट/15 मिनट 4 आया अब 75 वाट का पंखा है और उसे 15 मिनट चलाया तो 75/4 तो 18.75 वाट की बिजली की खपत हुई।
इस तरह से आप समझ गए होंगे की इसका बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

बिजली में यूनिट क्या होती है

जो हमारा बिजली का बिल आता है वह यूनिट के अनुसार ही आता है मतलब जितना यूनिट बिजली की खपत हम करेंगे और प्रति यूनिट की कीमत बिजली बोर्ड जितना निर्धारित किया होगा

उसमें यूनिट की संख्या से गुणा करके आपका बिजली का बिल आएगा। किलोवाट घंटा का ही दूसरा नाम यूनिट भी है किलोवाट घंटा (KWH) को हम यूनिट कहे या इसको हम 1000 वाट घंटा भी कह सकते है

इन सभी बातों का मतलब एक ही है। आप समझ गए होंगे की यूनिट क्या होता है और बिजली यूनिट कैसे निकाले

  1 यूनिट (1Kwh) = 1000 वाट घंटा

बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है

बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है? | Electricity-bill-calculation

उदाहरण- मान लीजिये ये सभी उपकरण प्रतिदिन चलते है आप के घर में 9 वाट के 5 led बल्ब लगे है जो 10 घंटे जलते है, 60 वाट के 3 सीलिंग फैन लगे है जो 10 घंटे चलते है,

20 वाट के 5 tubelight लगे है जो 10 घंटे जलते है, एक 100 वाट की टीवी है जो 3 घंटे चलती है,

एक फ्रिज 200 वाट का है जो की 10 घंटे चलता है, एक वाशिंग मशीन 300 वाट की है जो 1 घंटे चलता है, एक मिक्सी 600 वाट की है जो 1 घंटा चलता है

एक पानी की मोटर 1 Hp जो 1 घंटा चलता है और 7 रुपया प्रति यूनिट के दर से बिजली की कीमत है तो आपका 1 महीने का बिजली का बिल कितना आएगा।

1-  5 Led bulb 9 वाट 10 घंटे = 5×10×9 = 450 वाट

2-  3 सीलिंग फैन 60 वाट 10 घंटे = 3×60×10 = 1800 वाट

3-  5 Tubelight 20 वाट 10 घंटे = 5×20×10 = 1000 वाट

4-  1 टीवी 100 वाट 3 घंटे = 1×100×3 = 300 वाट

5-  1 फ्रिज 200 वाट 10 घंटे = 1×200×10 = 2000 वाट

6-  1 वाशिंग मशीन 300 वाट 1 घंटे = 1×300×1 = 300 वाट

7-  1 मिक्सी 600 वाट 1 घंटे = 1×600×1 = 600 वाट

8-  1 पानी की मोटर 1 Hp (746 वाट) 1 घंटे = 1×746×1 = 746 वाट

1 दिन यानी 24 घंटे का कुल बिजली का खपत (electricity-bill-calculation) = 450+1800+1000+300+2000+300+600+746 = 7196 वाट इसको यूनिट में बदलने के लिए 1000 से भाग देना होगा क्योंकि 1 यूनिट में 1000 वाट होता है।

7196/1000 = 7.196 Kwh (यूनिट) की खपत होगी।

अब 1 महीने का electricity bill calculation (बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है?) = 7.196×30 = 215.88 Kwh (यूनिट) की खपत 1 महीने में होगी।

अब चूँकि 7 रुपया प्रति यूनिट बिजली का दर है तो = 215.88×7= 1511.16 रुपया 1 महीने का बिजली का बिल आएगा अब आप समझ गए होंगे की बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

परन्तु जो आपने बिजली का खपत किया यही बिजली का बिल नहीं होगा इसके ऊपर सरचार्ज, मीटरचार्ज, और भी कई चार्ज जोड़कर आपका बिजली का बिल थोड़ा ज्यादा ही आएगा।

तो इस तरह से आप अपने घर का बिजली यूनिट कैसे निकाले समझ गए होंगे और इसका बिजली बिल कितना आएगा जोड़ सकते है।

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट में आप लोगो ने बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है? और electricity bill calculation के बारे में जाना।

इसमें kw full form और kwh is unit of के साथ-2 kw full form के बारे में जाना भी कई प्रश्नों का उत्तर इस पोस्ट में आपने जाना।

फिर भी आपका कोई प्रश्न है उसे जरूर पूछे मैं उसका उत्तर जरूर देने का प्रयास करूँगा।

नोट- यह भी पढ़े।

1- Bijli ka bill kam kaise kare 10 सबसे आसान तरीके

2- वायरिंग में क्या-2 सामान लगता है?


अब भी कोई सवाल आप के मन में हो तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके पूछ सकते है या फिर इंस्टाग्राम पर rudresh_srivastav” पर भी अपना सवाल पूछ सकते है।

अगर आपको इलेक्ट्रिकल की वीडियो देखना पसंद है तो आप हमारे चैनल target electrician  पर विजिट कर सकते है। धन्यवाद्

बिजली का बिल कैसे कैलकुलेट किया जाता है? से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (Mcq)-

1- 1 Kwh का मान कितना होता है?

Kwh विद्युत ऊर्जा की इकाई है 3600000 जूल 3600 किलो जूल 860421 किलो कैलोरी 1000 वाट घंटा। 1 Kwh = 1000 वाट होता है।

2- 1 KWH में कितने HP होते हैं?

1 Kwh में 1000 वाट घंटा होता है और 1 हॉर्स पावर (Hp) में 746 वाट होते है तो 1 Kwh में Hp 1000/746= 1.34 Hp होता है।

3- घरेलू कनेक्शन कितने किलोवाट का होता है?

हमारे आपके घरों का बिजली का कनेक्शन 1, 2 या 3  किलोवाट का होता है या अगर 1 Kw का कनेक्शन है तो आप अधिक से अधिक 1000 वाट का ही लोड 1 टाइम पर चला सकते है ऐसे ही 2 Kw का है तो आप अधिक से अधिक 2000 वाट का ही लोड 1 टाइम पर चला सकते है और 3 Kw का है तो आप अधिक से अधिक 3000 वाट का ही लोड 1 टाइम पर चला सकते है। इससे अधिक लोड चलाने पर आपको जुरबाना देना पड़ेगा।

4- वाट और यूनिट में क्या अंतर है?

वाट पावर की छोटी इकाई है पर यूनिट विद्युत ऊर्जा की इकाई है इसी को हम Kwh (kilowatt hour) भी कहते है मतलब वाट किसी उपकरण की पावर को बताता है पर उस उपकरण को जितने टाइम तक चलाते है तो उतने टाइम में जितना विद्युत ऊर्जा की खपत होती है उसे यूनिट कहते है। 1 यूनिट में 1000 वाट/घंटा होता है।

5- 1 यूनिट कितना होता है?

1 यूनिट कहे या 1 Kwh (Kwh meaning hindi) कहे दोनों एक ही है मतलब 1000 वाट या 1 Kw का प्रेस यदि हम 1 घंटे तक चला दे तो 1 यूनिट/ 1 Kwh की बिजली खर्च हो जाएगी।

मेरा नाम आर के श्रीवास्तव है इस ब्लॉग में आपको इलेक्ट्रीशियन ट्रेड से संबंधित सभी प्रकार की रोचक जानकारी मिलेगी, जिससे आप रोज नई-नई जानकारी सीख पाएंगे। आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न/कंफ्यूजन है तो उसे कमेंट सेक्शन में जाकर जरूर कमेंट करे मैं जल्द से जल्द उस प्रश्न/कंफ्यूजन का उत्तर दूंगा और आपकी कंफ्यूजन को दूर करने का पूरा प्रयास करूंगा। धन्यवाद्