आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है?

 

हम ITI करते है तो उसमे दो चीजें होती है जिसमे से एक NCVT और दूसरा SCVT से ITI करना होता है पर आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है? इससे ITI करने पर क्या होता है ITI से जुडी जानकारी को हम विस्तार से जानेंगे।

परन्तु इसे जानने से पहले हमें आईटीआई के बारे में जानना चाहिए फिर हम NCVT और SCVT को समझ जायेंगे।

ITI full form  Industrial Training Institute (इंडस्ट्रीयल ट्रेनिंग इन्स्टिटूट) होता है।

ITI एक बिजनेस टेक्नोलाॅजी का कोर्स होता है जिसे कोई भी 10वीं और 12वीं के बाद कर सकता है। इसमें आप अपने इंट्रेस्ट के अनुसार कोर्स चुन सकते है।

इस कोर्स में विद्यार्थियों को इंडस्ट्रियल लेवल की जॉब के लिए ट्रेनिंग दिया जाता है इस कोर्स में विद्यार्थियों को इंडस्ट्रियल स्किल्स पर फोकस करके पढ़ाया जाता है।

ITI में स्टूडेंट्स को बहुत सारे ‘ट्रेड्स’ जैसे कि कारपेंटर, फिटर, इलेक्ट्रीशियन, वेल्डर, फैशन डिजाइनिंग इत्यादि की ट्रेनिंग दी जाती है।

ITI में स्किल से संबंधित जॉब पर फोकस किया जाता है और विद्यार्थियों को ट्रेनिंग दिया जाता है।

आईटीआई कितने प्रकार से होती है

ITI दो प्रकार से हम कर सकते है जिसमे से एक सरकारी और दूसरा प्राइवेट।

ITI का कोर्स हर राज्य में किया जा सकता है हमारे पूरे देश में कुल लगभग 11,964 ITI सेंटर है जिसमें से लगभग 2284 सरकारी संस्थान और लगभग 9680 प्राइवेट संस्थान है।

लेकिन इन दोनों संस्थानों में कुछ अंतर है इसमें पहला अंतर है की सरकारी संस्थान की फीस कम होती है और प्राइवेट संस्थान की फीस ज्यादा होती है।

सरकारी संस्थान के टीचर काफी अनुभवी होते है सरकारी संस्थान में पढ़ने के संसाधन ज्यादा अच्छे है परन्तु प्राइवेट संस्थान में उतनी अच्छी पढाई नहीं होती है।

इसे भी पढ़े-

1- आग के खिलाफ सबसे अच्छा बचाव कौन सा है?

2- वैद्युतिक सुरक्षा नियम क्या है

आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है?

आईटीआई करने से क्या लाभ होता है?

दोस्तों आज के समय में एक नौकरी पाना बहुत कठिन है और अगर आप 10th या 12th पास है तो आप ज्यादा से ज्यादा एक बाबू बन सकते है मतलब उसमे नौकरी की सम्भावना काफी कम है।

मगर बहुत से लोग 10th और 12th पास है और उन सभी को भी नौकरी चाहिए तो आप सोच सकते है की इस नौकरी में कितना कंपटीशन है।

तो बात यह आती है की ऐसी कौन सी पढ़ाई करें की उसमें नौकरी की संभावना ज्यादा हो और उसमें कंपटीशन बहुत कम हो तो उसके लिए सबसे आसान तरीका है की आप एक टेक्निकल पढ़ाई कर ले

लेकिन इसमें एक बात और आती है की टेक्निकल पढ़ाई में कौन सी पढ़ाई करें क्योंकि टेक्निकल में बहुत सारी पढ़ाई आती है

अब अगर बच्चा उच्च वर्ग से है तो वह बी-टेक कर सकता है एमबीए कर सकता है या और बड़ी एजुकेशन ले सकता है।

अगर बच्चा मध्यमवर्ग का है तो वह पॉलिटेक्निक कर सकता है बी-फार्मा कर सकता है या इससे जुड़े कोर्स कर सकता है।

लेकिन अगर बच्चा निम्न वर्ग का है उसकी आर्थिक स्थिति सही नहीं  है तो वह कौन सी पढ़ाई करें जिससे वह अपना तो भविष्य बना ही सकें साथ में परिवार का भी भविष्य सुरक्षित कर सके।

तो इसके लिए सबसे सस्ता सबसे बढ़िया पढ़ाई ITI है क्योंकि इसमें अपनी रुचि के अनुसार कोई भी कोर्स किया जा सकता है ITI में  73 इंजीनियरिंग, 48 गैर-इंजीनियरिंग और 05 विशेष रूप से दृष्टिहीन कोर्स कराए जाते हैं।

इन विभिन्न पाठ्यक्रमों की अवधि 1-2 वर्ष के बीच में होती है। मगर इसमें NCVT और SCVT का जरूर ध्यान रखे।

जैसे कि इलेक्ट्रिशियन, फिटर, मशीनिस्ट, टर्नर, वेल्डर, कंप्यूटर कोर्स, इलेक्ट्रॉनिक्स कोर्स, ऑटोमोबाइल का कोर्स, सिविल ड्राफ्ट्समैन और भी बहुत सारे कोर्स आप सरकारी या प्राइवेट आईटीआई से कर सकते हैं।

अगर आप सरकारी आईटीआई से कर रहे हैं तो आप ₹1500 – ₹2000 में पूरा कोर्स कर सकते हैं

परंतु अगर आप प्राइवेट आईटीआई से कर रहे हैं तो लगभग 30 से 40 हज़ार में आप पूरा कोर्स कर सकते हैं।

इस कोर्स में अधिकतम 2 वर्ष का समय लगता है और इससे आप सरकारी और प्राइवेट नौकरी के साथ-2 अपना खुद का व्यवसाय भी कर सकते हैं और आप एक अच्छा जीवन स्तर जी सकते हैं।

बशर्ते आप पढ़ाई अच्छे से करें क्योंकि आजकल बच्चे पढ़ाई पर ध्यान नहीं देते जिससे कोर्स तो उनका कंप्लीट हो जाता है लेकिन जानकारी उनके पास कुछ भी नहीं रहती

और जब वह किसी कंपनी में इंटरव्यू के लिए जाते हैं तो चूकि उनका पढ़ाई से कोई सरोकार नहीं रहता तो वह इंटरव्यू सही से नहीं दे पाते तब वे कहते हैं कि आईटीआई करना बेकार है।

परंतु मैं आपको यह गारंटी देता हूं कि आपने अगर आईटीआई पूरी ईमानदारी से किया है और थ्योरी पर अच्छी पकड़ है

इसके साथ-साथ प्रैक्टिकल भी आपने अच्छे से किया है तो निश्चित ही आप हर जगह पर हर काम में जो भी आपको दिया जाएगा पूरी गुणवत्ता के साथ आप कर पाएंगे और आपके पास नौकरी की कमी नहीं रहेगी।

आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है?

अब बात आती है की आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है? आईटीआई दो तरह से किया जाता है जिसमे से पहला है NCVT और दूसरा है SCVT अगर आप NCVT से अपना ITI कोर्स पूरा करते हैं तो इसकी मान्यता पूरे देश  में होती है।

वही अगर आप SCVT से ITI करते हैं तो इसकी मान्यता राज्य स्तर में बहुत ज्यादा होती है।

हालांकि केंद्र स्तर में भी इसकी मान्यता होती है लेकिन NCVT जितना नहीं होता है।

अधिकतर सरकारी संस्थान जैसे सरकारी PSU, प्राइवेट कम्पनी, और रेलवे में बहुत से जगह पर NCVT को अनिवार्य रूप से माँगा जाता है।

NCVT फुल फॉर्म – नेशनल काउंसिल वोकेशनल ट्रेंनिंग
SCVT  फुल फॉर्म – स्टेट काउंसिल वोकेशनल ट्रेंनिंग

इसे भी पढ़े-

1- Bijli ka bill kam kaise kare 10 सबसे आसान तरीके

आईटीआई में कितने विषय होते हैं?

चूकि ITI एक टेक्निकल पढाई है इसलिए ITI करने के तुरंत बाद आप नौकरी ले सकते हैं। आईटीआई में थ्योरी की पढ़ाई के साथ-2 प्रैक्टिकल पर भी काफी ध्यान दिया जाता है।

सभी बच्चों को थ्योरी के साथ-2 प्रैक्टिकल भी करना होता है और उसकी परीक्षा भी देनी होती है।

आईटीआई में पढ़ाए जाने वाले सब्जेक्ट-

1- थ्योरी 2- वर्कशॉप कैलकुलेशन 3- सोशल स्टडी 4- प्रैक्टिकल 5- ड्राइंग 6-Employability Skills  7- सेसनल

ये सब्जेक्ट अलग-2 कोर्स के अनुसार अलग-2 होता है। इनमे से एक कोर्स इलेक्ट्रीशियन के बारे में बता रहा हूँ।

आईटीआई कितने नंबर की होती हैं?

इनमें आपको कुल 700 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं इंजीनियरिंग ट्रेड में आईटीआई में पास होने के लिए आपको लगभग 354 अंक लाने होते तभी जाकर आप इंजीनियरिंग ट्रेड में आईटीआई में पास हो सकते हैं।

S.No. subject Max. mark Min. mark 
1. Theory  100 33
2. Employability  Skills 50 17
3. Workshop calculation & science  50 17
4. Engineering drawing  50 17
5. Trade  practical 250 150
6. Formative assessment 200 120
Total 700 354

आईटीआई करने के बाद कौन सी नौकरी मिल सकती है?

सरकारी नौकरी के लिए इलेक्ट्रीशियन, फिटर, टर्नर और मशीनिस्ट सबसे अच्छा कोर्स है।

सरकार सभी आईटीआई ट्रेड में नौकरी देती है। यह आपकी रुचि या पसंद पर भी निर्भर करता है।

रेलवे में लोको पायलट, PSU में बहुत अच्छी जॉब के लिए ITI का इलेक्ट्रीशियन और फिटर ट्रेड सबसे अच्छा माना जाता है।

ITI पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

आईटीआई में एडमिशन के लिए 10th में उम्मीदवार को 40% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए। लेकिन इस 40 प्रतिशत नंबर का कोई मतलब नहीं है अगर आप 40 प्रतिशत नंबर पा भी गया तो आपको कभी नौकरी नहीं मिलेगी।

ITI में पास होने का औसत नंबर काम से काम 70 प्रतिशत होना चाहिए नहीं तो ITI करने का कोई मतलब नहीं है।

उम्मीदवार की आयु 14 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। और यदि आप ने 12th कर लिया है या बैचलर कर लिया है तो भी कोई प्रॉब्लम नहीं है।

आईटीआई करने के लिए उम्र में छूट-

  • ITI का पूर्व कर्मचारी और वॉर विडो को 45 साल की उम्र तक छूट दी जाती है।
  • अगर व्यक्ति विकलांगता है तो उनके लिए 10 साल की छूट मिलती है।
  • विधवाएं या महिलाएं अपने पति से अलग रहती हैं उनकी उम्र 35 साल है तो उन्हें भी छूट मिलती है।

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट को पढ़कर आप आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है?, आईटीआई में NCVT का फुलफॉर्म, आईटीआई में SCVT का फुलफॉर्म की जानकारी आपको मिल गई होगी।

इससे एक अच्छी नौकरी मिल सकती है या नहीं, इसे करने के बाद सरकारी नौकरी मिल सकती है या नहीं आपने जाना।

फिर भी कोई प्रश्न है तो आप कमेंट में बताये मैं आपके प्रश्न का उत्तर जरूर दूंगा।

नोट- यह भी पढ़े।

1- इन्वर्टर में बैटरी का कनेक्शन

2- सौर पैनल के 3 प्रकार क्या हैं?


अब भी कोई सवाल आप के मन में हो तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके पूछ सकते है या फिर इंस्टाग्राम पर rudresh_srivastav” पर भी अपना सवाल पूछ सकते है।

अगर आपको इलेक्ट्रिकल की वीडियो देखना पसंद है तो आप हमारे चैनल “target electrician पर विजिट कर सकते है। धन्यवाद्

आईटीआई में एनसीवीटी और एससीवीटी क्या है? से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर (Mcq)-

1- SCVT का मतलब क्या होता है?
SCVT से ITI करते हैं तो इसकी मान्यता राज्य स्तर में बहुत ज्यादा होती है। SCVT का फुल फॉर्म – स्टेट काउंसिल वोकेशनल ट्रेंनिंग यह काउंसिल राज्य के स्तर पर काम करती है।

2- ITI में कितने ट्रेड होते हैं?

ITI में अपनी रुचि के अनुसार कोई भी कोर्स किया जा सकता है ITI में  73 इंजीनियरिंग, 48 गैर-इंजीनियरिंग और 05 विशेष रूप से दृष्टिहीन कोर्स कराए जाते हैं। इन विभिन्न पाठ्यक्रमों की अवधि 1-2 वर्ष के बीच में होती है।

3- ITI का क्या फायदा है?

ITI करने के बाद आप रेलवे, सेना, पुलिस विभाग, सरकारी PSU में, टाटा मोटर्स, मारुती सुजुकी, अनेको प्राइवेट कंपनी, खुद का एक अच्छा बिज़नेस  सुरु कर सकते है। इसके आलावा ITI करने के बाद आप अपने घर के बहुत से काम कर सकते है उसके लिए अलग से कोई तकनीशियन बुलाने की कोई जरुरत नहीं पड़ती।

4- आईटीआई में सबसे अच्छी नौकरी कौन सी है?

अगर अपने पूरी ईमानदारी से ITI किया है जो इसमें करियर बनाने के बहुत से मोके आपको मिल जाते है इसमें आपको सरकारी विभाग  खास करके रेलवे और ऑर्डनेन्स फैक्ट्री में ढेरो नौकरी का ऑप्शन मिल जाता है इसके आलावा प्राइवेट कम्पनी में बहुत सी सम्भावनाये मिलती है।

5- आईटीआई करने की उम्र क्या है?

उम्मीदवार की आयु 14 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। और यदि आप ने 12th कर लिया है या बैचलर कर लिया है तो भी कोई प्रॉब्लम नहीं है।

आईटीआई करने के लिए उम्र में छूट-

  • ITI का पूर्व कर्मचारी और वॉर विडो को 45 साल की उम्र तक छूट दी जाती है।
  • अगर व्यक्ति विकलांगता है तो उनके लिए 10 साल की छूट मिलती है।
  • विधवाएं या महिलाएं अपने पति से अलग रहती हैं उनकी उम्र 35 साल है तो उन्हें भी छूट मिलती है।

मेरा नाम आर के श्रीवास्तव है इस ब्लॉग में आपको इलेक्ट्रीशियन ट्रेड से संबंधित सभी प्रकार की रोचक जानकारी मिलेगी, जिससे आप रोज नई-नई जानकारी सीख पाएंगे। आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न/कंफ्यूजन है तो उसे कमेंट सेक्शन में जाकर जरूर कमेंट करे मैं जल्द से जल्द उस प्रश्न/कंफ्यूजन का उत्तर दूंगा और आपकी कंफ्यूजन को दूर करने का पूरा प्रयास करूंगा। धन्यवाद्